कैसे उठाए हरियाणा एकमुश्त निपटान योजना 2023 का लाभ एवं आवेदन प्रक्रिया | One Time Settlement Scheme Haryana (OTS)

( One Time Settlement Scheme Haryana) हरियाणा एकमुश्त निपटान योजना (आवेदन प्रक्रिया, रजिस्ट्रेशन फॉर्म, लाभ एवं विशेषताएं, ऑफिशियल वेबसाईट, जरूरी दस्तावेज, पात्रता, फायदा, सूचि, ऑनलाइन एप्लीकेशन, उद्देश्य) (Registration, Online Apply, List, last date to apply, required documents, benefits, official website, eligibility Criteria, Objective etc.)

हरियाणा सरकार समय-समय पर राज्य के किसानों को ज्यादा से ज्यादा लाभ हो इस प्रकार की योजना निकालती रहती है। जिसके कारण किसानों को आर्थिक मुसीबतों का सामना ना करना पड़े। इसी प्रकार हाल ही में हरियाणा सरकार ने किसानों के लिए एक योजना निकाली है जिसका नाम One Time Settlement Scheme Haryana (हरियाणा एकमुश्त निपटान योजना) है। अगर आप भी इस योजना का लाभ उठाकर अपना ब्याज माफ करना चाहते हो तो इस लेख को बारीकाई से जरूर पढ़ें।

आज इस लेख के माध्यम से आपको एकमुश्त निपटान योजना 2023 के बारे में सभी महत्वपूर्ण जानकारी मिलेगी। जैसे कि इस योजना में आवेदन किस प्रकार से कर सकते हैं? योजना का लाभ क्या क्या है?, लाभ लेने हेतु आप क पात्रता क्या होनी चाहिए? जैसे सभी महत्वपूर्ण मुद्दों की जानकारी मिलेगी।

Join whatsapp group Join Now
Join Telegram group Join Now
One Time Settlement Scheme Haryana (OTS) | एकमुश्त निपटान योजना

खास सुचना: अगर आप कोई भी सरकारी योजना से जुड़ी ए टू जेड जानकारी सबसे पहले पाना चाहते हो तो कृपया करके हमारी टेलीग्राम चैनल (KhetiNiDuniya.in) को जरूर से ज्वाइन करें।

Table of Contents

एकमुश्त निपटान योजना 2023 | One Time Settlement Scheme Haryana (OTS)

इस लेख में महत्वपूर्ण मुद्दों को मोटा किया गया है। ताकि आपको पढ़ने में सरलता रहे।

क्या है हरियाणा एकमुश्त निपटान योजना 2023?

इस योजना को हरियाणा सरकार द्वारा हाल ही में चालू किया गया है। राज्य के सहकारिता मंत्री बनवारी लाल ने गत शुक्रवार को इस योजना की घोषणा कर दी है। इसके तहत लाभार्थियों को बकाया ब्याज पर 100% छूट मिलने वाली है। इस योजना का फायदा किसानों को राहत महसूस कराने वाला है। इस योजना के तहत राज्य सरकार लगभग 445 करोड़ रूपए के बकाया ब्याज का भुगतान करेगी। इस योजना को निकालकर हरियाणा सरकार ने राज्य के किसानों के प्रति अपना मंसूबा साफ कर दिया है।

Objective of One Time Settlement Scheme (उद्देश्य)

हरियाणा राज्य सरकार का इस योजना के पीछे का मुख्य उद्देश्य बैंकों द्वारा 31 मार्च 2022 को डिफॉल्टर घोषित किए गए किसानों को उनके द्वारा लिए गए लोन की एकमुश्त राशि का भुगतान करने के लिए उन्हें प्रोत्साहित करना है। One Time Settlement Scheme Haryana 2023 के तहत 31 मार्च 2022 को जिन किसानों को डिफॉल्टर घोषित किए गए हैं और उनकी मृत्यु हो चुकी है तो उनके वारिसों को बकाया ब्याज पर 100% छूट मिलेगी। साथ ही साथ अन्य कर्जदार किसानों को भी बकाया ब्याज पर 50% की छूट मिलेगी। तो चलिए दोस्तों इस लेख में आगे इस योजना की विशेषताओं के बारे में बात करेंगे।

Important Key Points of One Time Settlement (OTS) Scheme

योजना का नामएकमुश्त निपटान योजना (वन टाइम सेटलमेंट OTS योजना)
किस राज्य से जुड़ी हैहरियाणा
घोषित की गई5 अगस्त, 2022
किनके द्वारा घोषित की गईसहकारिता मंत्री बनवारी लाल
लाभार्थीलोन लेने वाले कर्जदार किसान
लाभ31 मार्च, 2022 तक के बकाया ब्याज पर 50 से 100% की छूट दी जाएगी।
कितने रुपए माफ किए जाएंगेलगभग 445 करोड़ रूपए
ऑफिशियल वेबसाइटजल्द ही जारी होगी
हेल्पलाईन नंबरजल्द ही जारी किया जाएगा
टेलीग्राम चैनल से जुड़ने के लिएयहां क्लीक करें

हरियाणा एकमुश्त निपटान योजना 2023 के लाभ एवं विशेषताएं

  • हरियाणा सरकार की एकमुश्त निपटान योजना को किसानों के प्रति एक अहम कदम माना जा रहा है।
  • इस योजना के अंतर्गत किसानों को अपने बकाया ब्याज पर 100% छूट मिलेगी।
  • इस योजना के कारण राज्य के किसान ज्यादा समय तक कर्जदार नहीं रहेंगे।
  • इस योजना के अंतर्गत बकाया ब्याज के अलावा दंडात्मक ब्याज और अन्य खर्चे भी माफ किए जाएंगे।
  • इस योजना का लाभ जिला कृषि एवं भूमि विकास बैंक के सदस्यों और कर्जदार किसानों को मिलेगा।
  • इस योजना के कारण 17,863 मृत कर्जदार किसानों के वारिसों को बड़ा फायदा होगा।
  • इस योजना के अंतर्गत हरियाणा सरकार किसानो के लगभग 445.29 करोड़ रूपए माफ करने जा रही है।
  • इस योजना की खास बात यह है कि वन टाइम सेटेलमेंट योजना (OTS Scheme) के तहत सभी प्रकार के लोन की ब्याज राशि माफ की जाएगी।
  • इस योजना के अंतर्गत आवेदन “पहले आओ पहले पाओ” के मुताबिक होगा।

हरियाणा एकमुश्त निपटान योजना की मुख्य शर्ते

  • एकमुश्त निपटान (OTS) योजना के तहत सिर्फ उन्हीं किसानों को लाभ मिलेगा जिनका नाम बैंक द्वारा डिफॉल्टर की यादी में घोषित किया गया है।
  • इस योजना के अंतर्गत कर्जदार किसान जिनकी मृत्यु हो चुकी है, उनके वारिसों को बकाया ब्याज पर 100% छूट दी जाएगी। लेकिन उनका नाम बैंक द्वारा घोषित की गई डिफॉल्टर की यादी में होना चाहिए।
  • इस योजना के तहत राज्य के अन्य कर्जदार किसान जो अभी जीवित है, उनको बकाया ब्याज पर 50% तक की छूट दी जाएगी। यह भी वही किसान होंगे जिनका नाम डिफॉल्टर की यादी में है।

Eligibility Criteria for One Time Settlement Scheme (पात्रता)

  • One Time Settlement Scheme (OTS) के तहत उन्हीं किसानों को लाभ मिलेगा जो हरियाणा राज्य के मूल निवासी है।
  • इस योजना का लाभ लेने हेतु आपका नाम बैंकों द्वारा 31 मार्च 2022 तक कोशिश की गई डिफॉल्टर की यादी में होना चाहिए।
  • केवल राज्य के कर्जदार किसानों या फिर जिला कृषि एवं भूमि विकास बैंक के सदस्यों ही इस योजना के लिए आवेदन पात्र है।

आवेदन करने हेतु जरुरी दस्तावेज़

  • आधार कार्ड
  • मृतक किसान का प्रमाण पत्र
  • बैंक खाते की पासबुक
  • लोन से संबंधित कागजात
  • स्थानीय निवास प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर

एकमुश्त निपटान योजना के तहत हरियाणा राज्य के लाभार्थियो को मिलने वाली धनराशि माफ़ी की जानकारी

वन टाइम सेटलमेंट योजना की घोषणा करते वक्त राज्य के सहकारिता मंत्री बनवारी लाल ने बताया कि इस योजना के अंतर्गत लगभग 17,863 मृत कर्जदार किसान एवं सदस्यों को लाभ मिलेगा। इन सभी लाभार्थियों के लोन की कुल बकाया राशि 445.29 करोड़ रूपए होती है। जीनको राज्य सरकार द्वारा माफ़ की जाएगी। इस कुल राशि में 174.38 करोड़ रूपए की मुल राशि है। साथ ही साथ 241.45 करोड़ रुपए का ब्याज है और 29.46 करोड़ रुपए दंड स्वरूप ब्याज के हैं।

अगर राज्य के सभी लाभार्थियों की बात करें उनकी संख्या लगभग 74,000 हज़ार है। और इन सभी लाभार्थियों की धनराशि लगभग ₹2100 करोड़ की है। इस धनराशि में 845 करोड रुपए मूलधन राशि है, 1112 करोड़ रुपए ब्याज की राशि और 111 करोड़ रुपए की दंड स्वरूप राशि है। इस योजना के कारण राज्य के लगभग 74 हजार किसानों एवं सदस्यों को लोन के ब्याज से मुक्ति मिलेगी।

योजना के अंतर्गत आवेदन करने की अंतिम तारीख

आप सभी दोस्तों को हमने पहले ही जानकारी दे दी है कि इस योजना की आवेदन प्रक्रिया “पहले आओ पहले पाओ” के आधार पर होगी। किंतु अभी तक राज्य सरकार की तरफ से वन टाइम सेटेलमेंट योजना की अंतिम तारीख जारी नहीं की है। जैसे ही इस योजना की अंतिम तारीख सरकार द्वारा जारी की जाती है उसी वक्त आपको भी इस वेबसाईट से जानकारी सबसे पहले दी जाएगी।

हरियाणा एकमुश्त निपटान योजना की आवेदन प्रक्रिया (Online Apply for One Time Settlement Scheme)

अगर आप भी एकमुश्त निपटान योजना 2022 के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हो तो आपको थोड़ा सा सब्र रखना पड़ेगा। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि राज्य के सहकारिता मंत्री बनवारी लाल द्वारा इस योजना की अभी तक घोषणा ही की है। जैसे ही राज्य सरकार द्वारा इस योजना के अंतर्गत आवेदन की प्रक्रिया चालू होगी उसी वक्त आपको इस लेख के माध्यम से अपडेट किया जाएगा। तब तक आप इस लेख से जुड़ने के लिए इस लेख को बुकमार्क कर सकते हो अथवा टेलीग्राम चैनल को भी ज्वाइन कर सकते हो।

टेलीग्राम चैनल से जुड़ने के लिएयहां क्लीक करें
होम पेजयहां क्लीक करें

और पढ़ें:

FAQs for OTS Scheme Haryana

प्रश्न: एकमुश्त निपटान योजना कब शुरू हुई?

उतर: 5 अगस्त 2022

प्रश्न: किस राज्य में कर्जदार किसानों के बकाया ब्याज माफ़ किए जाएंगे?

उतर: हरियाणा राज्य में

प्रश्न: इस योजना का उद्देश्य क्या है?

उतर: हरियाणा राज्य का मुख्य उदेश्य बैंकों द्वारा 31 मार्च 2022 को डिफॉल्टर घोषित किए गए किसानों को उनके द्वारा लिए गए लोन की एकमुश्त राशि का भुगतान करने के लिए उन्हें प्रोत्साहित करना है।

प्रश्न: OTS योजना के अंतर्गत किसको लाभ मिलेगा?

उतर: हरियाणा राज्य के कर्जदार किसानों और जिल्ला कृषि एवं भूमि विकास बैंक के सदस्यों को लाभ मिलेगा।

प्रश्न: वन टाइम सेटलमेंट योजना के तहत कितने प्रतिशत बकाया ब्याज पर माफ़ी मिलेंगी?

उतर: रोहतक किसानों के वारिसों को 100% और अन्य कर्जदार किसानों को 50% माफ़ी मिलेंगी।

Leave a Comment

Join whatsapp group Join Now
Join Telegram group Join Now