राजस्थान ऊंट सरंक्षण योजना को मिली मंजूरी 2023: जानिए आवेदन व लाभ क्या है | Rajasthan unt Sarankshan Yojana

Rajasthan Unt Sarankshan Yojana 2023 | ऊंट सरंक्षण योजना के लाभ एवं विशेषताएं | आवेदन कैसे करें | Rajasthan Camel Conservation Yojana | योजना का बजट | राजस्थान ऊंट योजना में आवेदन प्रक्रिया | पात्रता एवं जरूरी दस्तावेज | उष्ट्र सरंक्षण योजना राजस्थान में आवेदन कैसे करें

Rajasthan unt Sarankshan Yojana
रेफ्रन्स के लिए आप यह फोटो डाउनलोड कर सकते है।

Rajasthan Unt Sarankshan Yojana 2023: दोस्तों राजस्थान में ऊंटों की संख्या दिन-ब-दिन कम होती जा रही है। इसीलिए अब राजस्थान में ऊंटों का संरक्षण करना जरूरी होता जा रहा है। ऐसे में हमारे राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी ने ऊंटों के संरक्षण के लिए एक सरकारी योजना की जाहिरात की है जिसका नाम राजस्थान ऊंट संरक्षण योजना (Camel Conservation Yojana Rajasthan) है। Rajasthan Unt Sarankshan Yojana के अंतर्गत उस मालिकों को उंटो के संरक्षण के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

Table of Contents

Rajasthan Unt Sarankshan Yojana 2023 | ऊंट सरंक्षण योजना क्या है

कुछ तो मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी ने वर्ष 2022-23 के शुरुआती समय में ही राज्य में ऊंटो के संरक्षण के लिए योजना शुरू करने का निर्णय लिया था। जिसे हाल ही में यानी कि 14 नवंबर सोमवार के दिन मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी ने राजस्थान ऊंट संरक्षण योजना को मंजूरी प्रदान कर दी है। इस योजना के कारण राजस्थान में रहते ऊंट मालिकों को सबसे ज्यादा फायदा होने जा रहा है। Rajasthan Camel Conservation scheme के ऊंट एवं उनके बच्चे को पशु चिकित्सक द्वारा टैग लगाया जाएगा। इसके साथ साथ उनको चिकित्सकीय सुविधा भी प्रदान की जाएगी।

Unt Sarankshan Yojana Rajasthan के अंतर्गत सबसे पहले मादा ऊंट को टैग लगाया जाएगा उसके पश्चात ऊंट मालिक को उनके संवर्धन के लिए ₹10,000 रुपए की आर्थिक वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। चिकित्सक जितने उंटो को टैग लगाएगा उस हिसाब से उसे भी सहायता दी जाएगी। एक टैग लगाने पर पशु चिकित्सक को ₹50 का मानदेय प्रदान किया जाएगा।

Overview: Unt Sarankshan Yojana

🟠 योजना का नाम🟢 ऊंट सरंक्षण योजना (Camel Conservation Yojana)
🟠 लॉन्च की गई 🟢 राजस्थान राज्य सरकार द्वारा
🟠 मंजूरी मिली🟢 14 नवंबर 2022
🟠 उद्देश्य 🟢 ऊंटो के सरंक्षण के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करना
🟠 लाभार्थी 🟢 राज्य के ऊंट मालिक
🟠 योजना का बजट🟢 2 करोड़ रुपए
🟠 आवेदन प्रक्रिया 🟢 ऑफलाइन
🟠 आधिकारिक वेबसाइट 🟢 http://www.pashuaushadh.com/
🟠 टेलीग्राम चैनल 🟢 KhetiNiDuniya01

ध्यान दें: अगर आप भविष्य में कोई भी सरकारी योजना की A टू Z जानकारी सबसे पहले और रेगुलर पाना चाहते हो तो कृपया करके हमारी टेलीग्राम चैनल को जरूर से ज्वाइन करें। (KhetiNiDuniya01)

उष्ट्र सरंक्षण योजना राजस्थान का उद्देश्य

राजस्थान राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई Camel Conservation Yojana Rajasthan के पीछे का मुख्य उद्देश्य राज्य में ऊंटो का सरंक्षण करने के साथ साथ ऊंट मालिको को आर्थिक सहायता प्रदान करना है। ऊंट सरंक्षण योजना के अंतर्गत राजस्थान राज्य सरकार ने 2 करोड़ 60 लाख रुपए का बजट निर्धारित किया है। ताकि ऊंट मालिको के साथ साथ ऊंटो को भी सहयता मिल सके एवं उनको टैग लगाकर उनकी गिनती भी हो सके। वैसे Unt Sarankshan Yojana Rajasthan के अंतर्गत मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 10 करोड़ रुपए का बजट रखने की बात रखी थी। राजस्थान ग्रामीण परिवार आजीविका ऋण योजना के बारे में जानने के लिए क्लिक करें।

Unt Sanrakshan Yojana के लिए दिशा निर्देश

  • दोस्तो ऊंट संरक्षण योजना राजस्थान के अंतर्गत यह निर्देश दिए गए हैं कि किसी भी उंट मालिकों को केवल दो ही किस्तों में राशि प्रदान की जाएगी।
  • पहली किस्त जब नन्हे से ऊंट का जन्म होगा उनके पश्चात डॉक्टर द्वारा उनका इलाज व टैग लगाए जाने के बाद पहली किस्त के रूप में ₹5000 की राशि प्रदान की जाएगी।
  • अगर उनके बच्चे की मृत्यु हो जाती है तो ऐसी परिस्थिति में राजस्थान राज्य सरकार द्वारा किसी भी प्रकार की सहायता देने की घोषणा नहीं की गई।
  • जब उनके बच्चे का 1 वर्ष पूर्ण हो जाता है तब फिर से डॉक्टर द्वारा चेकअप होने के पश्चात ही दूसरी किस्त के रूप में ₹5000 उंट मालिक के बैंक खाते में जमा किए जाएंगे।
  • अगर आप Unt Sanrakshan Yojana के अंतर्गत लाभ उठाना चाहते हैं तो आपके उंट पर टैग लगवाना अनिवार्य है

Unt Sarankshan Yojana Rajasthan के लाभ

  • उष्ट्र सरंक्षण योजना राजस्थान को गत दिवस 14 नवंबर सोमवार के दिन मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मंजूरी प्रदान की हैं।
  • ताकि राज्य में उंटो का संवर्धन हो सके एवं उनकी गिनती प्रक्रिया को सरल बनाया जा सके।
  • Camel Conservation Yojana Rajasthan 2023 के अंतर्गत ऊंट मालिको को ₹5000 रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • इतना ही नही बल्कि 1 वर्ष पूर्ण होने के पश्चात फिर से ऊंट मालिको को दूसरी किश्त के रूप में भी ₹5000 रुपए का अनुदान दीया जाएगा।
  • Unt Sarankshan Yojana Rajasthan के अंतर्गत पशु चिकित्सक जो ऊंटो को टैग लगाएगा उसे भी ₹50 प्रति टैग राज्य सरकार की तरफ से प्रदान किया जाएगा।
  • इस योजना के अंतर्गत फिलहाल राजस्थान राज्य सरकार ने 2 करोड़ 60 लाख का बजट निर्धारित किया है। जिससे ऊंटो का संवर्धन हो सके।
  • योजना के अंतर्गत आर्थिक धनराशि ऊंट मालिको के बैंक खाते में डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के जरिए जमा की जाएगी।
  • राजस्थान सरकार की इस योजना के कारण राज्य में ऊंटो की संख्या एवं उनका इलाज बेहतर हो सकेगा।

ऊंट सरंक्षण योजना राजस्थान की पात्रता

  • इस योजना का लाभ केवल राजस्थान राज्य के ऊंट मालिको को ही मिलेगा।
  • ऊंट मालिक के पास बैंक खाता होना अनिवार्य है जो आधार कार्ड से लिंक होना चाहिए।
  • इस योजना का लाभ केवल 2 किस्तों तक ही मिल सकता हैं

👉 यह भी पढ़ें:- राजस्थान राशन कार्ड लिस्ट

उष्ट्र संरक्षण योजना में आवेदन के लिए जरूरी दस्तावेज की सूची

  • ऊंट मालिक का आधार कार्ड
  • स्थाई निवास प्रमाण पत्र
  • बैंक खाते की पासबुक
  • मोबाइल नंबर
  • राशन कार्ड

उष्ट्र सरंक्षण योजना राजस्थान में आवेदन कैसे करें

दोस्तों ऊंट संरक्षण योजना के तहत उंट मालिकों को ₹10000 की आर्थिक सहायता दो किस्तों में प्रदान की जाती है अगर आप इस योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन करना चाहते हैं तो आप नीचे दिए गए स्टेप्स को जरूर फॉलो करें।

स्टेप 1: सबसे पहले आप Ushtra Sanrakshan Yojana की Official Website पर जाए।

स्टेप 2: उसके पश्चात आप मुख्य मेनू में उष्ट्र संरक्षण योजना के विकल्प पर क्लिक करें।

स्टेप 3: अब आपकी स्क्रीन पर ऑनलाइन आवेदन फॉर्म खुल जाएगा। जिसमे आपको आपकी सामान्य जानकारी के साथ साथ ऊंट की जानकारी एवं बैंक खाते की जानकारी दर्ज कर लेनी है।

Unt Sanrakshan Yojana Online Apply

स्टेप 4: सभी जानकारी दर्ज होने के पश्चात अंत में आपको Submit के विकल्प पर क्लिक कर देना है।

इस प्रकार से आप Ushtra Sanrakshan Yojana Online Apply कर सकते हैं।

Ushtra Sanrakshan Yojana Helpline Number

दोस्तों, हमने आपको ऊंट संरक्षण योजना के बारे में सभी जानकारी प्रदान की अगर आप अधिक जानकारी या फिर किसी समस्या का समाधान चाहते है तो हम आपको पशु विभाग राजस्थान का हेल्पलाइन नंबर दे रहे है जहाप कॉल कर सकते है।

  • हेल्पलाइन नंबर: 0141-2743331
Join Telegram Channel
होम पेजयहां क्लिक करें
राजस्थान की अन्य योजनाएं यहां क्लिक करें

अगर आपको हमारा यह लेख “राजस्थान ऊंट सरंक्षण योजना (CCS rajasthan)” अच्छा लगता है तो आप इसे अपने दोस्तों एवं पहचान वालों के साथ जरूर शेयर करें। अगर आप ऐसी चीजे शेयर करेंगे तो यह दूसरों के मन में आपके प्रति स्नेह जरूर बढ़ा सकता है।

यह भी पढ़ें:

FAQs for Camel Conservation Yojana Rajasthan 2023

प्रश्न: संरक्षण योजना किस राज्य द्वारा शुरू की गई है?

उत्तर: राजस्थान

प्रश्न: Camel Conservation Yojana कब व किसके द्वारा शुरु की गई?

उत्तर: इस योजना को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा 14 नवंबर 2022 के दिन मंजूरी प्रदान की गई है।

प्रश्न: राजस्थान उष्ट्र सुरक्षा योजना के अंतर्गत उंट मालिकों को कितने रुपए की आर्थिक सहायता धनराशि प्रदान की जाएगी?

उत्तर: ₹5000 प्रति वर्ष के लिए 2 वर्षों तक आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

प्रश्न: Unt Sarankshan Yojana Rajasthan के अंतर्गत आवेदन कैसे करें?

उत्तर: दोस्तों हाल ही में इस योजना को मंजूरी प्रदान की गई है इसीलिए अभी तक राज्य सरकार की तरफ से इस योजना के अंतर्गत आवेदन की प्रक्रिया के बारे में जानकारी को सार्वजनिक नहीं किया गया। जैसे ही आवेदन प्रक्रिया शुरू की जाती है उसी वक्त आपको भी खेती नी दुनिया वेबसाइट के इस लेख के माध्यम से सबसे पहले अपडेट कर दिया जाएगा। सबसे पहले अपडेट पाने के लिए आप हमारी टेलीग्राम चैनल या फिर व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन कर सकते हो।

प्रश्न: Ustra Sanrakshan Yojana Kya Hai?

उत्तर: इस योजना के अंतर्गत राज्य के ऊंट मालिकों को 5000 रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान की जाति है ताकि वे अपने ऊंटों का सवर्धन कर सके। इसके साथ साथ मादा ऊंट को टैग भी लगाया जाएगा। इस योजना के बारे में अधिक जानने के लिए यहां क्लिक करें।

प्रश्न: राजस्थान ऊंट संरक्षण योजना में ऑनलाइन आवेदन करने की अंतिम तिथि क्या है?

उत्तर: इस योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन करने की अंतिम तिथि 28 फरवरी, 2023 है।

Leave a Comment

Join Whatsapp Group