मुख्यमंत्री वृक्ष संपदा योजना 2023: आवेदन व लाभ | Chhattisgarh Mukhyamantri Vriksh Sampada Yojana

( Chhattisgarh Mukhyamantri Vriksh Sampada Yojana Online Apply 2023 | छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री वृक्ष संपदा योजना आधिकारिक वेबसाइट | हेल्पलाइन नंबर | official website | Registration | लाभार्थी सूची )

Chhattisgarh Mukhyamantri Vriksh Sampada Yojana 2023: दोस्तों छत्तीसगढ़ में भूपेश बघेल सरकार के 4 वर्ष पूर्ण होने के अवसर पर गौरव दिवस मनाया गया। इस दिन मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ वासियों के लिए तीन महत्वपूर्ण कल्याणकारी योजनाओं का शुभारंभ किया। जिसमें से एक है मुख्यमंत्री वृक्ष संपदा योजनाChhattisgarh Mukhyamantri Vriksh Sampada Yojana 2023 के अंतर्गत किसानों को ज्यादा से ज्यादा फायदा प्रदान किया जाएगा। इस योजना के कारण किसानों को किस प्रकार से फायदा होगा इसकी जानकारी आपको इस लेख में प्रदान की गई है।

अगर आप भी छत्तीसगढ़ राज्य के मूल निवासी है और मुख्यमंत्री वृक्ष संपदा योजना का लाभ उठाकर अपनी इनकम को बढ़ाना चाहते हैं तो आपके लिए यह लेख बहुत काम का साबित होगा। आर्टिकल में हमने आपको Mukhyamantri Vriksh Sampada Yojana के बारे में ए टू जेड जानकारी दे रखी है। तो चलिए शुरू करते हैं।

Table of Contents

Chhattisgarh Mukhyamantri Vriksh Sampada Yojana 2023

Chhattisgarh Mukhyamantri Vriksh Sampada Yojana
यह फोटो आप डाउनलोड कर सकेंगे।

दोस्तों छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल 17 दिसंबर 2022 कितने मुख्यमंत्री वृक्ष संपदा योजना की घोषणा की है। जिसके अंतर्गत मुख्यमंत्री ने बताया कि आने वाले 5 सालों के भीतर 200000 एकड़ निजी भूमि में वृक्षारोपण करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इस वृक्षारोपण में ज्यादा औषधीय पेड़ व इमारतों में काम आने वाले पेड़ों को बोया जाएगा। क्योंकि इसी पेड़ों की लकड़ी से किसानों को अपने आमदनी में वृद्धि करने का मौका मिलेगा। Chhattisgarh Mukhyamantri Vriksh Sampada Yojana के अंतर्गत जो कि किसान अपनी निजी 1 एकड़ भूमि में ₹100000 तक का निवेश करके वृक्षारोपण करता है तो छत्तीसगढ़ राज्य सरकार द्वारा उन्हें 100% खर्चा प्रदान किया जाएगा।

इतना ही नहीं अन्य किसानों के लिए छत्तीसगढ़ राज्य सरकार वृक्षारोपण के उद्देश्य से कीमती पेड़ों के वृक्ष का पौधा 50% सब्सिडी पर प्रदान करेगा। छत्तीसगढ़ गौरव दिवस पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बताया कि मुख्यमंत्री वृक्ष संपदा योजना आने वाले समय में किसानों को समृद्ध बनाएगी। इसके कारण छत्तीसगढ़ राज्य का पर्यावरण शुद्ध होगा।

मुख्यमंत्री वृक्ष संपदा योजना का हुआ शुभारंभ

दोस्तों इस योजना की घोषणा तो मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 17 दिसंबर के दिन ही कर दी थी किंतु विधिवत रुप से Mukhyamantri Vriksha Sampada Yojana की शुरुआत मुख्यमंत्री ने 21 मार्च के दिन विश्व वानिकी दिवस के अवसर पर अपने कार्यालय से ऑनलाइन माध्यम से की है। इस योजना का पालन छत्तीसगढ़ के सभी 33 जिलों के 42 स्थानों पर किया जाएगा। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल मुख्यमंत्री वृक्ष संपदा योजना को किसानों के लिए आय अर्जित करने का एक और माध्यम होने की जानकारी दी है।

Mukhyamantri Vriksha Sampada Yojana Update: 19000 से ज्यादा लोगों ने किया रजिस्ट्रेशन

दोस्तों छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री वृक्ष संपदा योजना के तहत फारेस्ट डिपार्टमेंट ने बताया कि अभी तक इस योजना के तहत 19653 लोगों ने रजिस्ट्रेशन भी करवाया है। जो कि 30142 एकड़ भूमि कवर करेगी। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि सबसे ज्यादा भूमिक रजिस्ट्रेशन जगदलपुर फॉरेस्ट डिविजन के तहत हुआ है जो 4730 एकड़ भूमि का है। वहां पर 1999 भूमि मालिकों ने मुख्यमंत्री संपदा योजना के अंतर्गत रजिस्ट्रेशन करवाया है। इसी प्रकार बलरामपुर फॉरेस्ट डिविजन के तहत 2119 एकड़ भूमि में 2358 लोगों ने रजिस्ट्रेशन करवाया, दंतेवाड़ा जिले में 1543 एकड़ भूमि में 623 लोगों ने रजिस्ट्रेशन करवाया और सुकमा जिले में 1336 एकड़ भूमि में 795 लोगों ने रजिस्ट्रेशन करवाया है।

Quick Look – मुख्यमंत्री वृक्ष संपदा योजना

🟠 योजना का नाम🟢 Mukhyamantri Vriksh Sampada Yojana
🟠 शुरू की गई🟢 मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा
🟠 कब शुरू की गई🟢 17 दिसंबर 2022, छत्तीसगढ़ गौरव दिवस पर
🟠 राज्य🟢 छत्तीसगढ़
🟠 उद्देश्य🟢 किसानों की आय में वृद्धि करना और वृक्षारोपण को बढ़ावा देना
🟠 लाभार्थी🟢 छत्तीसगढ़ के लोग
🟠 वित्तीय वर्ष 🟢 2023
🟠 आवेदन प्रक्रिया 🟢 ऑफलाइन
🟠 आधिकारिक वेबसाइट 🟢 –
🟠 टेलीग्राम चैनल 🟢 यहां क्लिक करें

⚠️ ध्यान दें: अगर आप भविष्य में कोई भी सरकारी योजना से जुड़ी A टू Z जानकारी सबसे पहले और रेगुलर पाना चाहते हो तो कृपया करके हमारी टेलीग्राम चैनल को जरूर से ज्वाइन करें। (KhetiNiDuniya01).

CG Mahtari Dular Yojana Form PDF Download

छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री वृक्ष संपदा योजना का उद्देश्य

छत्तीसगढ़ राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई मुख्यमंत्री वृक्ष संपदा योजना का मुख्य उद्देश्य निजी भूमि पर वृक्षारोपण को बढ़ावा देकर किसानों की आय में वृद्धि करना है। इस उद्देश्य को पूरा करते वक्त छत्तीसगढ़ राज्य में रोजगार के नए अवसर उत्पन्न होंगे क्योंकि जिन्होंने भी अपनी निजी भूमि पर वृक्षारोपण किया होगा उनकी कटाई के लिए लोगों की जरूरत पड़ेगी। इसके अलावा किसके राज्य का मुख्य मुख्य राज्य में काष्ठ आधारित उद्योगों को विकसित करना है।

मुख्यमंत्री वृक्ष संपदा योजना
यह फोटो आप डाउनलोड कर सकेंगे।

छत्तीसगढ़ वृक्ष संपदा योजना में 12 प्रकार के वृक्षों को लगाया जाएगा

दोस्तों टेलीग्राफ इंडिया द्वारा यह जानकारी दी गई है कि मुख्यमंत्री वृक्ष सम्पदा योजना के तहत कुल 30000 एकड़ भूमि में इमारती वृक्षों का वृक्षारोपण किया जाएगा। जिसमें से करीब 17000 एकड़ भूमि में Clonal Ecucalyptus, 6400 एकड़ भूमि पर Rootshoot teak, 2600 एकड़ भूमि में टिश्यू कल्चर, 1400 एकड़ भूमि पर सैंडल वुड, 800 एकड़ भूमि में मेलिया डुबिया, 737 एकड़ भूमि पर बंबू, 607 एकड़ जमीन पर टिश्यू कल्चर बंबू, 100 से अधिक एकड़ जमीन पर रेड सैंडलवुड, 43 एकड़ जमीन पर अमला, 40 एकड़ भूमि पर khamar, 20-20 एकड़ जमीन पर शीशम और महानीम का वृक्षारोपण CG Mukhyamantri Vriksha Sampada Yojana के तहत किया जाएगा।

किसानों को किस प्रकार से मुख्यमंत्री वृक्ष संपदा योजना लाभकारी होगी

दोस्तों “Mukhyamantri Vriksh Sampada Yojana का मुख्य लक्ष्य गांव के लोगों/किसानों को वृक्षारोपण के लिए प्रोत्साहित करना है और शहरी लोगों को काष्ठ आधारित उद्योगों के लिए विकसित करना है। इस प्रकार से मुख्यमंत्री वृक्ष संपदा योजना को सफल बनाया जा सकता है, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बोला”। इस योजना के अंतर्गत किसानों को वृक्षारोपण के लिए 50% सब्सिडी पर पौधे प्रदान किए जाएंगे। अगर किसान अपनी निजी भूमि पर वृक्षारोपण करता है तो पेड़ों की कटाई करने पर जो लकड़ी निकलती है उसकी बिक्री का काम भी सरकार द्वारा किया जाएगा। इतना ही नहीं बल्कि किसानों को 3 वर्ष तक प्रति एकड़ ₹10000 का बोनस भी प्रदान किया जाएगा। चंदन आंवला जेसी औषधीय लकड़ी को बीकाने के लिए राज्य सरकार द्वारा विदेश की कंपनियों के साथ एमओयू भी किया जाएगा। ताकि किसानों को ऐसी औषधि लकड़ियों की ज्यादा से ज्यादा कीमत मिल सके।

मुख्यमंत्री घोषणा पोर्टल छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ राज्य सरकार ने 100 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित किया

दोस्तों जैसे कि हमने आपको पहले ही बताया कि छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री वृक्ष संपदा योजना 2023 के अंतर्गत राज्य सरकार का मुख्य उद्देश्य आने वाले 5 सालों के भीतर 200000 एकड़ निजी भूमि में वृक्षारोपण करवाना है। इसके लिए छत्तीसगढ़ राज्य सरकार ने 100 करोड़ रुपये का बजट निर्धारित किया है। ताकि वे वृक्षारोपण करने के लिए इच्छुक नागरिकों को 50% सब्सिडी पर पौधे उपलब्ध करवा सके। क्योंकि यह हम सब जानते हैं कि शीशम, सागौन, बांस, चंदन जैसे वृक्षों के पौधे महंगे होते हैं।

औषधीय पेड़ों की कटाई के लिए अनुमति लेने की जरूरत नहीं पड़ेगी

छत्तीसगढ़ राज्य के लोग या फिर किसान अपने निजी भूमि पर मुख्यमंत्री वृक्ष संपदा योजना के अंतर्गत औषधीय व इमारती पेड़ों का रोपण करेगा तो उसे अपनी निजी भूमि में पेड़ों की कटाई के लिए वन विभाग या फिर किसी भी राजस्व विभाग की अनुमति की जरूरत नहीं होगी। किसानों को केवल निजी भूमि के अलावा यानी कि सरकारी भूमि में रोपे पेड़ों को काटने के लिए ही राजस्व विभाग के अनुमति की जरूरत पड़ेगी।

Mahatma Gandhi Rural Industrial Park Yojana (RIPA)

Mukhyamantri Vriksh Sampada Yojana के लाभ

  • मुख्यमंत्री वृक्ष संपदा योजना को छत्तीसगढ़ राज्य सरकार द्वारा 17 दिसंबर 2022 के दिन वृक्षारोपण को बढ़ावा देने के लिए शुरू की गई है।
  • इस योजना के अंतर्गत राज्य में आने वाले 5 सालों के भीतर 200000 एकड़ निजी भूमि के अंदर वृक्षारोपण किया जाएगा।
  • इस योजना के कारण वृक्षारोपण को बढ़ावा तो मिलेगा ही किंतु इसके साथ-साथ कास्ठ आधारित उद्योगों का विकास भी होगा।
  • Mukhyamantri Vriksh Sampada Yojana के कारण किसानों की आमदनी में वृद्धि होगी।
  • क्योंकि वृक्ष संपदा योजना लागू होने से राज्य के ज्यादा से ज्यादा किसान वृक्षारोपण करने के लिए प्रेरित होंगे।
  • इस योजना के अंतर्गत किसानों को 50% सब्सिडी पर पौधे प्रदान किए जाएंगे।
  • इतना ही नहीं बल्कि किसानों को 3 वर्षों तक ₹10000 का एक्स्ट्रा बोनस भी प्रति एकड़ प्रदान किया जाएगा।
  • छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री वृक्ष संपदा योजना के अंतर्गत राज्य सरकार ने 100 करोड़ रुपये का बजट निर्धारित किया है।
  • अगर कोई किसान अपनी निजी भूमि पर ₹100000 का खर्च करके वृक्षारोपण करता है तो उनको राज्य सरकार द्वारा 100% खर्चे पर छूट प्रदान की जाएगी।
  • मुख्यमंत्री वृक्ष संपदा योजना के कारण राज्य में रोजगार के नए-नए अवसर उत्पन्न होंगे।
  • हालांकि वृक्ष संपदा योजना छत्तीसगढ़ 2023 के अंतर्गत कोई भी जैसे की सरकारी एवं अर्ध सरकारी संस्था, निजी शिक्षण संस्था, निजी ट्रस्ट और लीज लैंड होल्डर भी लाभ उठा सकते है।

मुख्यमंत्री वृक्ष संपदा योजना की योग्यता

  • इस योजना का लाभ केवल छत्तीसगढ़ राज्य के लोगों को ही प्रदान किया जाएगा।
  • फिर चाहे आप सामान्य नागरिक हो या फिर किसान हो तब भी मुख्यमंत्री वृक्ष संपदा योजना का लाभ उठाने के लिए पात्र होंगे।
  • इस योजना के अंतर्गत पुख़्त आयु के लोग ही पात्र होंगे।

Right to Repair Portal

आवश्यक दस्तावेज की सूची

  • आधार कार्ड
  • स्थाई निवास प्रमाण पत्र
  • निजी भूमि के कागजात
  • अभी तक की बैंक डिटेल्स
  • आवेदक का फोन नंबर
  • कलरफुल पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ

छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री वृक्ष संपदा योजना के लिए आवेदन कैसे करें?

दोस्तों वैसे तो मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने केवल Chhattisgarh Mukhyamantri Vriksh Sampada Yojana की घोषणा मात्र की है इसलिए हम आपको छत्तीसगढ़ राज्य सरकार द्वारा जारी की जाने वाली आवेदन प्रक्रिया के बारे में सुचारू रूप से नहीं बता सकते। किंतु आप नीचे दी गई प्रक्रिया को रोल मॉडल के तौर पर फॉलो कर सकते हैं।

Bhu Naksha Chhattisgarh

  • सबसे पहले आप अपने नजदीकी वन विभाग में जाए।
  • यहां पर वन विभाग अधिकारी के पास से मुख्यमंत्री वृक्ष संपदा योजना का आवेदन फॉर्म प्राप्त करें।
  • उसके पश्चात इस आवेदन फॉर्म में मांगी गई सभी जानकारी को ध्यानपूर्वक दर्ज करें।
  • उसके बाद आवेदन में मांगे गए जरूरी दस्तावेजों को आवेदन फॉर्म के साथ अटैच करें जैसे कि बैंक खाता नंबर, पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ, आधार कार्ड की कॉपी आदि।
  • उसके पश्चात इस आवेदन फॉर्म को उसी कार्यालय में जमा करें।
  • इसके पश्चात आपको वृक्ष संपदा योजना के अंतर्गत लाभार्थी माना जाएगा।

Chhattisgarh Mukhyamantri Vriksh Sampada Yojana 2023: के बारे में हमने आपको संपूर्ण जानकारी आसान भाषा में प्रदान की अगर आप इसी तरह अन्य सरकारी योजनाओं की जानकारी आसान भाषा में प्राप्त करना चाहते हैं तो कृपया करके हमारी खेती नी दुनिया वेबसाइट के होम पेज पर चले जाएं जहां पर आपको सभी सरकारी योजनाओं की सूची स्टेट वाइज प्राप्त होगी। दोस्तों अब तक हमसे जुड़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद और आगे भी जुड़े रहने के लिए आप हमारी टेलीग्राम चैनल या फिर व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन कर सकते हो क्योंकि सबसे पहले अपने हम इसी प्लेटफार्म पर प्रदान करते हैं।

Join Telegram Channel
होम पेजयहां क्लिक करें
छत्तीसगढ़ की अन्य योजनाएं यहां क्लिक करें

अगर आपको हमारा यह लेख “मुख्यमंत्री वृक्ष संपदा योजना 2023” अच्छा लगता है तो आप इसे अपने दोस्तों एवं पहचान वालों के साथ जरूर शेयर करें। अगर आप ऐसी चीजे शेयर करेंगे तो यह दूसरों के मन में आपके प्रति स्नेह जरूर बढ़ा सकता है।

इसे भी पढ़ें:

FREE TIP: अगर आप यह लेख फिर से पढ़ना चाहते हो तो आप google में यह keyword सर्च करें। 👇 “Mukhyamantri Vriksh Sampada Yojana by Pranav Patel” यह keyword सर्च करते ही आपके सामने KhetiNiDuniya.in वेबसाईट का यही लेख खुल जाएगा। आभार।

FAQs for CM Vriksh Sampada Yojana

प्रश्न: मुख्यमंत्री वृक्ष संपदा योजना कब व किसके द्वारा शुरू की गई?

उत्तर: इस योजना को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 17 दिसंबर 2022 छत्तीसगढ़ गौरव दिवस के दिन शुरू की है।

प्रश्न: मुख्यमंत्री वृक्ष संपदा योजना के अंतर्गत किसानों को कितने रुपयों का बोनस प्रदान किया जाएगा?

उत्तर: इस योजना के अंतर्गत वृक्षारोपण कर रहे किसानों को 3 वर्षों तक ₹10000 का बोनस प्रति एकड़ प्रदान किया जाएगा।

प्रश्न: छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री वृक्ष संपदा योजना के लाभ क्या है?

उत्तर: इस योजना के कारण राज्य में काष्ठ आधारित उद्योगों का विकास होगा इसके अलावा किसानों को वृक्षारोपण करने के लिए पौधे 50% सब्सिडी प्रदान किए जाएंगे। इतना ही नहीं बल्कि जो भी किसान ₹100000 का खर्च करके अपनी निजी भूमि में वृक्षारोपण करेगा उसका 100% खर्चा छत्तीसगढ़ राज्य सरकार द्वारा वहन किया जाएगा इसके लाभ के बारे में अधिक जानकारी लेने के लिए आप इस लेख को पढ़ सकते हैं।

प्रश्न: Mukhyamantri Vriksha Sampada Yojana किस राज्य से जुड़ी है?

उत्तर: छत्तीसगढ़

प्रश्न: वृक्ष संपदा योजना के अंतर्गत कितना बजट जारी किया गया है?

उत्तर: 100 करोड़ रुपिए

Leave a Comment

Join Whatsapp Group